समर्थक

मंगलवार, 18 मार्च 2014

''अजी बावली है बीजेपी''- short -story


  ''अजी सुनते हैं आजकल  एक नारा ''अबकी बार। मोदी सरकार '' दिन-रात दूरदर्शन पर सुनते -सुनते मैंने भी ये मन बना लिया है कि मैं इस बेचारे को ही वोट दे दूँगी। इसका चुनाव निशान क्या है जी ? श्रीमती जी के ये पूछते ही उनके पतिदेव भड़कते हुए बोले -''मुझे क्या पता ?इस बेचारे से ही पूछ  लो। मैं तो बीजेपी को वोट दूंगा और उसका चुनाव -निशान है 'कमल '। ''पतिदेव के जवाब पर श्रीमती जी मुंह बनाते हुए बोली -''  अजी छोडो भी बीजेपी का राग अलापना। देख लेना अपने मोदी की ही सरकार बनेगी और आपकी बीजेपी धूल का फूल बनकर रह जायेगी। बड़े आये कमल वाले !'' पतिदेव श्रीमती जी के ये कहते ही ठहाका लगाते हुए बोले -''अरी बावली मोदी बीजेपी के ही तो प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार हैं !'' श्रीमती जी उलाहना देती हुई बोली -''अजी बावली मैं नहीं आपकी बीजेपी है जो नारा ये देने के बजाय ''अबकी बार -बीजेपी सरकार '' ये दे रही है -''अबकी बार -मोदी सरकार '' ...... !''

शिखा कौशिक 'नूतन '